About Us

 

 

हर विद्यालय का एक उद्देश होता है | वह है कि प्रत्येक विद्यार्थी का चहुमुखी विकास हो, उसी तरह इस विद्यालय का भी है कि विद्यार्थी का चहुमुखी विकास करना है.यहाँ पुस्तकीय शिक्षा के अतिरिक्त खेलकूद ,कंप्यूटर एवं सामाजिक तथा मानशिक रूप से विद्यार्थी को मजबूद करना है |सभी अध्यापक एवं अध्यापिकाए हर विद्यार्थी को पूर्ण रूप से कुशल बनाने मे जुटे रहते हैं विद्यार्थी जीवन को अति महत्‍वपूर्ण सफल एवं सम्‍पन्‍न जीवन बनाने के लिए उचित प्रकार की सहायता और मार्गदर्शन की आवश्‍यकता होती है। यद्यपि अध्‍ययन विद्यार्थी के जीवन का मुख्‍य मार्ग का निर्माण करता है,विद्यार्थियों को अंसख्‍य क्षमताओं और प्रतिभाओं के प्रति उदासीन रहना अनुचित होगा।



Popular posts from this blog

या कुन्देन्दुतुषारहारधवला या शुभ्रवस्त्रावृता, या वीणावरदण्डमण्डितकराया श्वेतपद्मासना ।
या ब्रह्माच्युतशंकरप्रभृतिभिर्देवैः सदा वन्दिता,सामां पातु सरस्वती भगवती निःशेषजाड्यापहा ।